मेरा सपना आदर्श गांव हो अपना ग्रामसभा बोदना से ग्रामप्रधान पद के शिक्षित प्रत्याशी सुरेन्द्र रावत को अपना बहुमूल्य वोट देकर विजयी बनावें।

आज़मगढ़

मण्डलायुक्त विजय विश्वास पन्त ने जीजीआईसी में स्थिापित कन्ट्रोल रूम का किया निरीक्षण

मण्डलायुक्त विजय विश्वास पन्त ने जीजीआईसी में स्थिापित कन्ट्रोल रूम का किया निरीक्षण

आजमगढ़ / मण्डलायुक्त ने कोविड.19 के दृष्टिगत स्थानीय जीजीआईसी में स्थिापित एकीकृत कमाण्ड कन्ट्रोल रूम का किया निरीक्षण। इस दौरान कन्ट्रोल रूम प्रभारी सहित कई कर्मचारी अनुपस्थित मिले। मंडलायुक्त ने नाराजगी व्यक्त करते हुए सभी अनुपस्थितों का नो वर्कए नो पे के सिद्धान्त के आधार पर एक दिन का वेतन काटने का निर्देश दिया। मण्डलायुक्त श्री पन्त द्वारा मंगलवार को पूर्वान्ह में किये गये निरीक्षण के समय कन्ट्रोल रूम प्रभारी के साथ फीजियो थैरेपिस्ट वैभव सागर सिंह कम्प्यूटर आपरेटर गौतम चैधरी सीएचओ ढाकल राम प्रजापति डीईओ अभिजीत कुमार यादव तथा सहायक अध्यापक राम नरायण प्रसाद कृष्णानन्द यादव आलोक सिंह व ऋषि कुमार अनुपस्थित पाये गये। जबकि डीईओ रवि मिश्रा वरिष्ठ सहायक रामजी सिंह व सन्तोष कुमार सिंह उपस्थित थे। किन्तु उनके द्वारा उपस्थिति रजिस्टर पर हस्ताक्षर नहीं बनाया गया था। मण्डलायुक्त ने सभी अनुपस्थितों का नो वर्क नो पे के सिद्धान्त के आधार पर अनुपस्थित तिथि का वेतन काटने का के साथ ही उनसे स्पष्टीकरण भी प्राप्त करने हेतु निर्देशित दिए । इस दौरान मण्डलायुक्त ने निरीक्षण के दौरान काण्टैक्ट ट्रेसिंग के सम्बन्ध में उपस्थित डीईओ रवि मिश्रा से पूछा परन्तु उनके द्वारा कोई सन्तोष जनक उत्तर नही दिया गया। इसके अलावा वह मास्क भी नहीं लगाये हुए थे। इस पर उन्होंने नाराजगी व्यक्त करते हुए काण्टैक्ट ट्रेसिंग का पूरा उपलब्ध कराने के साथ ही उन्हें अनिवार्य रूप से मास्क का प्रयोग करने की हिदायत दी तथा चेतावनी दी गयी की यदि भविष्य में बिना कास्क के पाये जाते हैं तो उनके विरुद्ध दण्डात्मक कार्यवाही की जायेगी। इसी प्रकार उन्होंने पाॅजिटिव पाये गये मरीजो के काण्टैक्ट ट्रेसिंग के सम्बन्ध में अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डा संजय सिंह से भी पूछा तो वह भी संतोष जनक उत्तर नही दे पाये। इसके साथ ही काण्टैक्ट ट्रेसिंग में पाये गये व्यक्तियों के डाटा व आनलाइन फीड व्यक्तियों के डाटा में काफी अन्तर पाया गया। जिसे मण्डलायुक्त ने सन्देहास्पद मानते हुए अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डा संजय सिंह को सचेत किया गया कि भविष्य में इसकी पुनरावृत्ति नहीं होनी चाहिए मण्डलायुक्त ने निर्देशित किया कि यह सुनिश्चित किया जाय कि किसी भी दशा में फर्जी डाटा फीड नही मिलनी चाहिए। उन्होंने निर्देश दिया कि पांजिटिव पाये गये मरीजों के सम्पर्क में आये हुए व्यक्तियों की शत.प्रतिशत सैम्पलिंग कराई जाय। उन्होंने कहा कि वर्तमान में कोविड.19 महामारी की संक्रामकता में हो रही वृद्धि के दृष्टिगत एकीकृत कमाण्ड कन्ट्रोल रूम को पूरी मुस्तैदी से सक्रिय रखा जाय तथा ड्यूटी में लगे अधिकारीए कर्मचारी अनिवार्य रूप से समय से उपस्थित रहें। एवं समय समय पर उनके द्वारा कमाण्ड कन्ट्रोल रूम का औचक निरीक्षण होता रहेगा। किसी भी दशा में लापरवाही नहीं मिलनी चहिए।

Related posts

कृषि विश्वविद्यालय खुलने को लेकर छात्रों में खुशी की लहर

Virendra Saroj

लोक जनशक्ति के प्रदेश अध्यक्ष ने सपा जिला अध्यक्ष की जांच कराने की किया मांग शिवमोहन शिल्पकार

Virendra Saroj

अग्निकांड पीड़ित परिवारों की मदद को आगे बढ़े लोग

Virendra Saroj

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More