मेरा सपना आदर्श गांव हो अपना ग्रामसभा बोदना से ग्रामप्रधान पद के शिक्षित प्रत्याशी सुरेन्द्र रावत को अपना बहुमूल्य वोट देकर विजयी बनावें।

Life Style उत्तर प्रदेश लखनऊ

लखनऊ बुक फेयर-21 की थीम आत्मनिर्भर भारत बाल संग्रहालय चारबाग में पांच से किताबों का मेला सुबह से शाम तक चलेंगी साहित्यिक-सांस्कृतिक गतिविधियां

रिपोर्ट-अंजली पाण्डेय महानगर संवाददाता लखनऊ


लखनऊ बुक फेयर-21 की थीम आत्मनिर्भर भारत
बाल संग्रहालय चारबाग में पांच से किताबों का मेला
सुबह से शाम तक चलेंगी साहित्यिक-सांस्कृतिक गतिविधियां

लखनऊ, 2 मार्च। चारबाग स्थित बाल संग्रहालय लान में पांच से 14 मार्च तक लखनऊ पुस्तक मेला आयोजित किया जा रहा है। इस मेले की थीम आत्मनिर्भर भारत होगी। मेले का उद्घघाटन उप मुख्यमंत्री डा.दिनेश शर्मा करेंगे। निःशुल्क प्रवेश वाले इस मेले में सभी तरह की किताबों पर न्यूनतम 10 प्रतिशत छूट मिलेगी।
मेले के बारे में यहां आयोजित प्रेसवार्ता में संयोजक मनोज सिंह चंदेल ने बताया कि 2003 से पुस्तक मेले इस नवाबी शहर की नियमित गतिविधियों का अंग हो चुके हैं। कोविड महामारी का प्रकोप कम होने के बाद लोगों को बेसब्री से पुस्तक मेले की प्रतीक्षा में है। कोविड काल में पिछले वर्ष पुस्तक मेला नहीं हो पाया था। एक नई किंतु सुगम जगह चारबाग रेलवे स्टेशन के सामने सबकी पहुंच और आने-जाने के साधनों से सुगम स्थल पर हो रहे इस मेले के सांस्कृतिक मंच पर सुबह से रात तक गतिविधियों का दौर नित्य जारी रहेगा। पुस्तक मेले का विशेष आकर्षण है ।
ऑप्टीकुम्भ-21 होगा। उपमुख्यमंत्री डा.दिनेश शर्मा ने शुक्रवार पांच मार्च को शाम पांच बजे पुस्तक मेले का उद्घाटन करने की सहमति दी है। मेले की थीम आत्मनिर्भर भारत रखी गई है। निदेशक आकर्ष चंदेल ने बताया कि केंद्र और राज्य सरकारों के द्वारा कार्यक्रम के आयोजन के मापदंडों में ढील के बाद ही मेले का खाका तैयार किया गया है। हमेशा की तरह सुबह 11 बजे से रात नौ बजे तक चलने वाले इस लखनऊ पुस्तक मेले में इस बार भी कोई प्रवेश शुल्क नहीं होगा, किन्तु कोविड प्रोटोकाल का पालन करते हुए बिना मास्क के पुस्तक प्रेमियों को प्रवेश नहीं दिया जायेगा। उन्होंने बताया कि महामारी के इस दौर में पिछले एक वर्ष में पुस्तक कारोबार को 26 करोड़ रुपये से ज़्यादा का नुकसान हुआ है। इस नुकसान में 80 फीसदी हिस्सा पाठ्यक्रम की शैक्षिक पुस्तकों का है। उन्होंने आज आभासी दुनिया के लती होने के नुकसानों से अलग पुस्तकों के कभी न खत्म होने वाले फायदों को गिनाया और कहा कि पुस्तकों को सबसे अच्छे दोस्त के रूप में जाना जाता है और युगों से समाज के विकास में किताबें अहम भूमिका निभाती आई हैं।
श्री चंदेल ने आगे बताया कि मेले में नेशनल बुक ट्रस्ट, राजकमल, लोकभारती, वाणी प्रकाशन, केंद्रीय हिंदी निदेशालय, प्रकाशन विभाग, उत्तर प्रदेश हिंदी संस्थान, सिंधी भाषा राष्ट्रीय परिषद, उर्दू भाषा राष्ट्रीय परिषद, चिल्ड्रन बुक ट्रस्ट, श्रीरामकृष्ण मिशन, तर्कसंगत विचार कैफे, ओसवाल पब्लिशर्स, सुल्तान चंद, प्रकाशन संस्थान के साथ कई अन्य प्रकाशक और वितरक पुस्तक मेले में भाग ले रहे हैं। स्थानीय लेखकों की अपनी पुस्तकों के प्रदर्शन और बिक्री के लिए अलग से मुफ्त स्टाल लगाया जा रहा है। सात से 13 मार्च तक चलने वाले विश्व ग्लूकोमा सप्ताह के अंतर्गत मेले में फ्यूचरिस्टिक विजन सेंटर के सहयोग से आंखों की जांच का फ्री कैम्प भी लगाया जाएगी। ज्योति किरन रतन ने बताया कि महिला दिवस पर महिलाओं के विशेष कार्यक्रम बुक फेयर में होंगे। इसके अलावा इंटर-कॉलेज प्रतियोगिता, ओपन माइक सत्र, प्रदर्शनी टॉक शो इत्यादि भी आयोजित किये जाएंगे। इस अवसर पर श्री यू पी त्रिपाठी, मिशन लीडर- विश्वम फाउंडेशन, श्री विशाल श्रीवास्तव, सह-संस्थापक किरण फाउंडेशन और श्री ऋषभ रस्तोगी, मिशन लीडर- ऑप्टीकुंभ 21 भी उपस्थित थे।
लखनऊ बुक फेयर के एसोसिएट्स प्रसार भारती- आकाशवाणी, रेडियो सिटी, मोतीलाल मेमोरियल सोसाइटी, विजय स्टूडियो, ऑर्गेनिक इंडिया, किरण फाउण्डेशन, ज्वाइन हैण्ड्स फाउण्डेशन, ऑरिजिंस, सेफ एक्सप्रेस, विश्वम फाउण्डेशन, जैकसन, समाग्री , स्टार टेक्नोलॉजीज, चोकामोर हैं।

ईमेल-  lucknowbookfair@gmail.com ,     संपर्क जानकारी- ़ 91-9415080505 , 9044138886

Related posts

गरीब का आशियाना उजड़ा, गैस सिलेंडर से लगी आग , सब कुछ जलकर राख

Surendra Rawat

जिलाधिकारी महराजगंज डॉ उज्जवल कुमार ने निचलौल औऱ चौक थाने का किया औचक निरीक्षण

Surendra Rawat

दिल दहला देने वाली घटना का हुआ खुलासा भाभी बनी हत्यारन , सगे देवर की करा दी हत्या हत्यारोपी भाभी समेत चार गिरफ्तार 

Surendra Rawat

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More