Friday, July 1, 2022
Google search engine
Homeदेशकेंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री ने अपने सार्वजनिक कार्यक्रम में हिस्सा लिया...

केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री ने अपने सार्वजनिक कार्यक्रम में हिस्सा लिया और विभिन्न सरकारी योजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास किया

- Advertisement -
- Advertisement -

केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री श्री अमित शाह ने आज अपने संसदीय क्षेत्र गांधीनगर में अनेक सार्वजनिक कार्यक्रम में हिस्सा लिया और विभिन्न सरकारी योजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास किया। श्री अमित शाह ने गांधीनगर रेलवे स्टेशन पर महिला स्वयं सहायता समूह (SHG) को आवंटित चाय स्टाल का लोकार्पण किया। स्वयं सहायता समूह की महिलाओं से चर्चा करते हुए श्री अमित शाह ने कहा कि महिला SHG द्वारा गांधीनगर रेलवे स्टेशन पर दिए जाने वाली कुल्हड़ की चाय से न सिर्फ पर्यावरण को लाभ होगा बल्कि सदियों पुरानी इस कला को बल मिलेगा व इससे जुड़े परिवारों को आर्थिक सहायता भी मिलेगी। उन्होंने गांधीनगर रेलवे स्टेशन आने वाले यात्रियों से अनुरोध किया कि वे इन मिट्टी के कुल्हड़ में चाय का आनंद अवश्य लें। केन्द्रीय गृह मंत्री ने कुछ समय पहले गांधीनगर लोकसभा क्षेत्र में कुम्हार महिलाओं को मुफ्त इलेक्ट्रिक चाक वितरित किए थे।

एक अन्य कार्यक्रम में केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री ने श्री स्वामीनारायण विश्वमंगल गुरुकुल द्वारा PSM हॉस्पिटल में बनाए गए ऑक्सीजन प्लांट और नये स्कूल का उद्घाटन किया। उन्होंने मानसा सिविल हॉस्पिटल का निरीक्षण भी किया। श्री अमित शाह ने पानसर झील के सौंदर्यीकरण कार्य का शिलान्यास और विभिन्न विकास कार्यों का लोकार्पण भी किया। इस अवसर पर गुजरात के मुख्यमंत्री श्री भूपेन्द्र पटेल समेत अनेक गणमान्य व्यक्ति भी उपस्थित थे।

अपने संबोधन में केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में हम गांधीनगर की जनता को विश्वस्तरीय सुविधाएं प्रदान कर उनके जीवन को सुगम बनाने हेतु निरंतर समर्पित हैं। उन्होने कहा कि रोज़ग़ार को गति देने की दिशा में क़दम उठाते हुए मोदी जी ने पहले खादी ग्रामोद्योग की मदद से इलेक्ट्रिक चरखा उपलब्ध कराया और अब आज रेलवे स्टेशन पर टी स्टॉल पर मिट्टी के कुल्हड़ में चाय मिलने की भी शुरूआत हुई है और इस प्रोजेक्ट को महिलाओं के स्वयं सहायता ग्रुप ने शुरु किया है। श्री अमित शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री जी के आत्मनिर्भर भारत के विज़न को आगे बढ़ाते हुए इन सभी कार्यों को किया जा रहा है।

श्री अमित शाह ने कहा कि पानसर झील का 3 करोड रूपए के खर्च से सौंदर्यीकरण किया जाएगा और तालाब के पास बच्चों के लिए खेल का मैदान, पार्किंग, नौका विहार, फव्वारा, जॉगिंग पार्क, फूड पार्क, पौधारोपण आदि की व्यवस्था भी की जाएगी, जिससे पानसर में चमत्कारिक परिवर्तन आएगा। उन्होंने कहा कि पानसर झील के सौंदर्यीकरण से आस-पास के इलाक़ों में रोज़ग़ार के अवसर भी पैदा होंगे। श्री शाह ने कहा कि आज लगभग 10 करोड रूपए की लागत के 143 छोटे विकास कार्यों, जिनमें ज़िला आरोग्य कचेहरी के 2, औडा का 1, गांधीनगर तालुका पंचायत के 99, गांधीनगर तालुका पंचायत के 11, प्राथमिक शिक्षा से संबंधित 3 विकास कार्य शामिल हैं, की शुरूआत हुई है।

केन्द्रीय गृह मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने देश के 130 करोड़ लोगों को कोरोना के टीके की दोनों ख़ुराक़ मुफ़्त देने की व्यवस्था की है और ऐसा दुनिया का कोई अन्य देश नहीं कर सकता। उन्होंने कहा कि ऐसा साहस श्री नरेन्द्र मोदी के सिवा कोई और नहीं कर सकता, लेकिन इसका लाभ हमें तभी मिलेगा, जब गांव में 100 प्रतिशत लोगों को दोनों डोज़ लग जाएं। श्री शाह ने कहा कि इसके लिए जनजागृति ज़रूरी है और ये काम हम सबका है। उन्होंने पानसर के सभी लोगों से अनुरोध किया कि वे घर-घर जाकर ये पूछें कि क्या घर के सभी लोगों ने कोरोना का टीका लगवा लिया है और जिसने भी दूसरी ख़ुराक़ ना ली हो, उसे ले जाकर दूसरी ख़ुराक़ दिलवाएं। इससे पानसर गांव को कोरोनामुक्त किया जा सकेगा।

श्री अमित शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने कोरोना की पहली लहर में 7 महीने तक और दूसरी लहर मे 6 महीने तक देश के 80 करोड़ लोगों को प्रति व्यक्ति पांच किलो अनाज मुफ्त देने की व्यवस्था की। उन्होंने कहा कि ग़रीबो को जो अनाज भेजा जाता है वो उन तक पहुंचना चाहिए और ये काम गांव के नौजवानों को करना है। प्रधानमंत्री जी ने 13 महीने तक 80 करोड़ लोगों को मुफ्त अनाज भेजने की जो व्यवस्था की है वो और ग़रीबो तक पहुंचे और इसकी ज़िम्मेदारी गांव के युवाओं की है।

केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री ने कहा कि कल ही प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने सार्वजनिक राजकीय सेवा के 20 साल पूरे किए और 20 साल तक शासन करते हुए लोगों की सेवा की। ऐसे देश में जहां लोकतांत्रिक व्यवस्था है, वहां शायद श्री नरेन्द्र मोदी जी ही एक ऐसे नेता हैं जिन्होंने पूरे बीस साल तक शासन किया है और आज भी लोगों ने उन्हें प्रधानमंत्री के रुप में स्वीकार किया है। श्री नरेन्द्र मोदी ने लोकाभिमुख शासन का उत्तम उदाहरण दिया है। 7 अक्तूबर को श्री नरेन्द्र मोदी सत्ता में आए थे और 7 अक्तूबर 2021 के दिन उनकी राजकीय यात्रा के बीस साल पूरे हुए और वर्ष 2024 में भी वे ही चुने जाएंगे और इसका कारण है कि उनके मन में हमेशा लोक सेवा का विचार रहता है। उन्होंने कहा कि पूरे 20 साल में श्री नरेन्द्र मोदी ने कभी छुट्टी नहीं ली। श्री शाह ने कहा कि कितना भी बड़ा लक्ष्य हासिल हुआ हो, उसका आनंद प्रधानमंत्री जी के चेहरे पर नहीं दिखेगा, लेकिन जो काम बाकी है उसकी चिंता उनके चेहरे पर हमेशा दिखाई देती है। लोगों, देश और ग़रीबों के लिए इतनी चिंता करने वाला नेता भाग्यवश ही दिखता है।

श्री अमित शाह ने कहा कि पिछले सात सालों में 60 करोड़ लोगों के घर में बैंक खाता पहुंचाने का काम प्रधानमंत्री मोदी ने किया है। 10 करोड़ लोगों के घर में शौचालय पहुंचाये, 60 करोड़ लोगों के लिए पांच लाख तक का मुफ़्त इलाज, ऐसी व्यवस्था श्री नरेन्द्र मोदी ने की है और वर्ष 2024 से पहले हर एक घर में नल से पीने का पानी पहुंचे, ऐसी व्यवस्था भी प्रधानमंत्री जी कर रहे हैं।

- Advertisement -
RELATED ARTICLES

Most Popular