Friday, July 1, 2022
Google search engine
Homeउत्तर प्रदेशखलिहान और पोखरे की भूमि पर दबंगों का कब्जा जुर्माना व बेदखली...

खलिहान और पोखरे की भूमि पर दबंगों का कब्जा जुर्माना व बेदखली के बाद भी जमीन पर काबिज भू-माफिया

- Advertisement -
- Advertisement -

 खलिहान और पोखरे की भूमि पर दबंगों का कब्जा जुर्माना व बेदखली के बाद भी जमीन पर काबिज भू-माफिया

महराजगंज।
नौतनवा थाना क्षेत्र के ग्राम बैजनाथपुर उर्फ चरका में खलिहान और पोखरे की जमीन पर दबंगों का कब्जा कागज में बेदखल और जुर्माना के बाद भी
दबंगों का कब्जा बरकरार गांव की सार्वजनिक जमीनों को खाली करने के लिए चाहे जितने अभियान चले कोर्ट और सरकार चाहे जितना सख्त हो जाए पर यहां नौतनवा तहसील के ग्राम बैजनाथपुर उर्फ चरका में अवैध कब्जेदार कागज से बेदखल हो जाते हैं जमीन से नहीं.
सरकारी जमीन नाली चकरोड खलिहान खेल का मैदान तालाब चारागाह ग्राम समाज के परती और आबादी क्षेत्र सहित जो भी सरकारी जमीन हैं ग्राम पंचायत स्तर पर इसके रखरखाव की जिम्मेदारी भूमि प्रबंधन समिति को होती है समिति में लेखपाल मंत्री होते हैं अवैध कब्जे से मुक्त कराने के शासन के आदेश पर प्रशासन अभियान चलाता है पर इस अभियान का कितना असर होता है.
इसकी हकीकत खोलने के लिए बैजनाथपुर उर्फ चरका का एक ही मामला पर्याप्त है|
आपको बता दें कि ग्राम पंचायत बैजनाथपुर उर्फ चरका में उच्च न्यायालय इलाहाबाद की दो बार डायरेक्शन के बाद वह न्यायालय तहसीलदार नौतनवा के आदेश दिनांक 25|1|18 व 31-1-18 के बाद भी गांव के खलिहान गाटा संख्या 339 व पोखरी गाटा संख्या 335 में कब्जा किए नामित अब्दुल गफ्फार पुत्र अबदुल सत्तार, बजहुललमर पुत्र मोहम्मद असीन, मुजतबा पुत्र मुर्तजा लोगों के खिलाफ बेदखली व क्षतिपूर्ति के आदेश के बाद भी दबंगों के कब्जा बरकरार लोगों का इंतजार कि आखिर कब चलेगा इन माफियाओं पर बुलडोजर.
इस मामले ताजा करते हुए ग्राम पंचायत बैजनाथपुर उर्फ चरका निवासी कलीमुल्ला खान पुत्र मोहम्मद नसीर खान ने एक बार फिर तहसीलदार को पत्र लिखकर कार्यवाही की मांग की.

- Advertisement -
RELATED ARTICLES

Most Popular