Saturday, May 28, 2022
Google search engine
Homeउत्तर प्रदेशकाश!डॉ कौस्तुभ व सुनील दत्त दुबे जैसे औऱ भी अफसर अपनी जिम्मेदारी...

काश!डॉ कौस्तुभ व सुनील दत्त दुबे जैसे औऱ भी अफसर अपनी जिम्मेदारी समझते…?

- Advertisement -
- Advertisement -

सुरेन्द्र रावत,आई पी एन

महराजगंज। आईपीएस डॉक्टर कौस्तुभ पुलिस अधीक्षक महाराजगंज ने थाना निचलौल में वादी संवाद दिवस व थाने के कार्यों की समीक्षा की तदोपरांत अगले कार्यक्रम के लिए रवाना हुए थे । साथ मे पुलिस उपाधीक्षक सुनील दत्त दुबे भी थे तभी थाना परिसर के बाहर एक वृद्ध व्यक्ति जिसकी आंखों में याचना झलक रही थी खडा था पर शायद उसकी हिम्मत पुलिस अधीक्षक महोदय के थाना परिसर में उपस्थित होने के कारण थाने के अंदर जाने की नहीं पड़ रही थी पुलिस अधीक्षक महोदय तत्काल पैदल ही उसके पास पहुंचे और उसकी समस्याओं को सुना। और गरीबों के मसीहा एवं सरल स्वभाव व्यक्तित्व के धनी क्षेत्राधिकारी निचलौल सुनील दत्त दुबे को तत्काल निस्तारण हेतु निर्देशित किया।सुनील दत्त दुबे ने तत्काल निचलौल पुलिस को बुलाकर उसकी समस्या के समाधान के लिए भेजा ।पुलिस अधीक्षक महोदय के इस उदार व्यवहार से इस मानवीय संवेदना से उस वृद्ध व्यक्ति के चेहरे पर एक हल्की सी मुस्कान दिखाई दी उसकी आंखों में एक श्रद्धा का भाव था उसके चेहरे के भाव बता रहे थे कि वह कप्तान साहब को दिल से दुआ दे रहा है । सुनील दत्त दुबे ने कहा कि पुलिस अधीक्षक महोदय का यह व्यवहार हम सबके लिए अनुकरणीय है। एक आमजन किसी तरह हिम्मत करके हमसे सीधे मिलने आता है हम उसकी समस्या का निराकरण भले ही न कर सके पर उसकी बात को सुनकर उसकी पीड़ा को दूर तो कर ही सकते हैं।

- Advertisement -
RELATED ARTICLES

Most Popular