सिसवा विधायक प्रेमसागर पटेल ने सीएम को लिखा पत्र जिलाधिकारी अमरनाथ उपाध्याय सहित पांच हुए निलंबित

सिसवा विधायक प्रेमसागर पटेल ने सीएम को लिखा पत्र जिलाधिकारी अमरनाथ उपाध्याय सहित पांच हुए निलंबित

सिसवा विधायक प्रेमसागर पटेल ने सीएम को लिखा पत्र जिलाधिकारी अमरनाथ हुए निलंबित


महाराजगंज जनपद के गौसदन मधवलिया में अनियमितता को देखते हुए 2 अक्टूबर को सिसवा के विधायक प्रेम सागर पटेल ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखकर कार्यवाही की मांग की और गोसदन के हालात से अवगत कराया जिस को संज्ञान में लेते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जिलाधिकारी महाराजगंज अमरनाथ उपाध्याय को निलंबित कर दिया है। अमरनाथ उपाध्याय पीसीएस रैंक के थे जिन्हें प्रमोशन मिला था और पहला जिला महाराजगंज था गोसदन में काफी अनियमितताएं पाए जाने की वजह से विधायक प्रेम सागर पटेल काफी नाराज थे प्रतिदिन गायों का मरना बंद नहीं हो रहा था डीएम की लापरवाही को देखते हुए उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी को पत्र लिखकर कार्यवाही की मांग किया और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने तत्काल मामले को संज्ञान में लेते हुए जिलाधिकारी अमरनाथ उपाध्याय निलंबित कर दिया।

बताते चलें कि जिलाधिकारी के अलावा उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा जारी की गई निराश्रित गोवंश योजना के तहत जांच अपर आयुक्त गोरखपुर मंडल के द्वारा की गई जिसमें मधवलिया में निराश्रित गोवंश रखने की जांच में ढाई हजार गोवंश की जगह भौतिक निरीक्षण में मात्र 954 ही गोवंश पाए गए हैं जिसमें जिले के पांच अधिकारियों को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया जिसमें महाराजगंज के जिलाधिकारी अमरनाथ उपाध्याय एसडीएम सदर देवेंद्र कुमार, एसडीएम निचलौल सत्यम मिश्रा, मुख्य पशु अधिकारी बीके मौर्य,डॉ राजीव उपाध्याय मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी महराजगंज को तत्काल प्रभाव से निलंबित किया गया है।

अपर आयुक्त गोरखपुर मंडल ने इसकी जांच की और पाया गया कि जिला स्तर के अधिकारियों की निराश्रित गोवंश रखने में स्थिरता मिली जिसके कारण यह बड़ी कार्रवाई की गई है ।

Spread Your Love